पाई नेटवर्क क्या है, कब लॉन्च होगा, कीमत क्या होगी? | Pi network information in hindi.

पाई नेटवर्क (Pi Network) मार्च 2019 को लॉन्च हुआ था, 2022 में अब इस प्रोजेक्ट को तीन साल पुरे हो चुके है. पाई नेटवर्क जो की एक क्रिप्टो कॉइन (Crypto coin) है, इसके मार्केट में आने की खबरे काफी सारी फ़ैल रही है. पाई नेटवर्क एक अच्छा प्रोजेक्ट (Project) होने वाला है और इसकी कीमत भी भविष्य में अच्छी होगी. तो चलिए जानते है, पाई नेटवर्क की टीम का क्या कहना है, पाई माइनिंग क्या है, पाई नेटवर्क लॉन्च कब होगा, इसकी कीमत (Pi Network Price in india) क्या होगी और वास्तव में Pi डिजिटल करेंसी क्या है?

पाई नेटवर्क क्या है, कब लॉन्च होगा, कीमत क्या होगी? | Pi network information in hindi.

PI नेटवर्क क्या है और इसकी पूरी जानकारी (Pi Network full details in hindi)

पाई (Pi) नेटवर्क क्या है?

क्रिप्टो करेंसी की दुनिया में आये दिन कई तरह के प्रोजेक्ट आते है, और चले भी जाते है, लेकिन कुछ ही ऐसे प्रोजेक्ट होते है, जो सफल हो पाते है. इसी कड़ी में Pi नेटवर्क को मार्च 2019 में लॉन्च किया गया था, और लाँचिंग के बाद से अब तक इसे तीन साल हो चुके है.

पाई नेटवर्क एक क्रिप्टो प्रोजेक्ट है, इसमें हम पाई की ऑफिसियल एप्प को डाउनलोड करके उसमे फ्री में माइनिंग करके उसमे Pi coins को कलेक्ट कर सकते है, जिन्हें हम Pi की लिस्टिंग के बाद अच्छे दाम में सेल कर सकते है.

पाई माइनिंग (Pi mining) क्या है, और कैसे करे?

किसी भी क्रिप्टो के निर्माण की प्रक्रिया ही क्रिप्टो माइनिंग कहलाती है, और क्रिप्टो माइनिंग एक खर्चीली तकनीक या प्रक्रिया है. लेकिन पाई नेटवर्क हमें फ्री में एक मोबाइल एप्प की मदद से क्रिप्टो माइनिंग की सुविधा दे रहा है, जिसमे हम पाई coins की माइनिंग करके फ्री में पाई कॉइन कमा सकते है.

PI कॉइन की माइनिंग करने के लिए सबसे पहले आपको पाई नेटवर्क की ऑफिसियल एप्प डाउनलोड करनी होगी, उसके बाद आप अपने फ्रेंड्स को रेफर करके और खुद से भी Pi की माइनिंग करके पाई कॉइन earn कर सकते है.

Pi नेटवर्क में अकाउंट कैसे बनाये

  1. सबसे पहले आपको फेसबुक या आपके मोबाइल नंबर से अकाउंट बनाना होगा.
  2. इसके बाद आपको आपका नाम और यूजर नाम डालना होगा, अगर यूजर name बनाने में कोई प्रॉब्लम हो तो आप उसमे 4-5 नंबर्स भी दाल सकते है.
  3. इसके बाद आपको इनविटेशन कोड (Invite Code) डालना होगा, जिससे आपको 1 Pi कॉइन फ्री मिल जाएगा, और आपका अकाउंट भी एक्टिवेट हो जाएगा.
  4. अब आप खुद से और अपने फ्रेंड्स को रेफ्फर करके पाई टोकन earn कर सकते है.
  5. Pi Network Reffer कोड- pavan11972

पाई नेटवर्क (PI Coin) कब लॉन्च होगा?

अगर पाई coins के क्रिप्टो मार्केट में आने की बात की जाये तो, इसके ऑफिसियल लॉन्च के बारे में अभी टीम ने पूरी तरह से कोई निश्चित तारीख नही बतायी है, लेकिन एक रिपोर्ट के अनुसार कुछ ब्लॉकचैन सर्टिफिकेट मिलने के बाद और कुछ परमिशन मिलने के बाद Pi नेटवर्क जून 2022 के बाद लॉन्च हो सकता है.

यह भी पढ़े:

पाई कॉइन की कीमत क्या होगी (Pi Coin Price Prediction In Hindi)

क्रिप्टो मार्केट में जब भी कोई coin लॉन्च होता है, तो यह नहीं बताया जा सकता है, की निश्चित रूप से उस कॉइन की कीमत क्या होगी, क्योंकि उस कॉइन की कीमत कॉइन के प्रोजेक्ट उसकी टीम और लोगों में उस कॉइन की हाइप कैसी है, इन्ही सब की मदद क्रिप्टो कॉइन के मूल्य का अनुमान लगाया जा सकता है.

अगर हम Pi नेटवर्क के पाई कॉइन की कीमत (Price) की बात करे तो इसका शुरूआती मूल्य 0.01$ से लेकर 0.05$ तक रह सकता है. और जब भविष्य में pi कॉइन कुछ बड़े-बड़े क्रिप्टो एक्सचेंज जैसे- binance, huobi, kucoin आदि पर लिस्ट होगा तो इसकी कीमत शुरूआती दिनों में आसानी से 1$ चली जाएगी.

पाई नेटवर्क से जुड़े कुछ प्रश्न (QNA about Pi coin hindi)

1.पाई नेटवर्क किसने और क्यों बनाया है?

Ans. पाई नेटवर्क स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी कैलिफ़ोर्निया की टीम द्वारा एक टीम बनाया गया है. पाई नेटवर्क की टीम के अनुसार Pi कॉइन का इस्तेमाल ऑनलाइन सामान खरीदने व बेचने के लिए किया जाएगा, इसके साथ हम pi coins के साथ क्रिप्टो में ट्रेडिंग भी कर पाएँगे.

2.पाई कॉइन कब तक लॉन्च हो सकता है?

Ans. पाई नेटवर्क का पाई कॉइन मार्किट में तब लॉन्च होगा जब पाई नेटवर्क की टीम अपने पाई एप्प के मैन्नेट (Mainnet) को लॉन्च करेगी. कुछ रिपोर्ट्स के हिसाब से लगभग जून 2022 के बाद पाई कॉइन मार्किट में आ सकता है.

3.इंडिया में एक पाई की प्राइस क्या होगी?

Ans. Pi coin का शुरूआती मूल्य 0.01$ से लेकर 0.05$ तक रह सकता है. पाई कॉइन का मूल्य अलग-अलग नही होगा, क्योंकि यह एक worldwide क्रिप्टो कॉइन है, तो इसकी किमत पूरी दुनिया में लगभग एक जैसी रहेगी.

4.क्या पाई नेटवर्क स्कैम हो सकता है?

Ans. इस विषय में कुछ भी कह पाना इतना आसान नही है, क्योंकि अगर हम पाई की माइनिंग करते है तो इससे हमारे फ़ोन को किसी तरह का कोई नुक्सान नही होता है, और ना ही pi नेटवर्क माइनिंग के लिए किसी से पैसे चार्ज करता है. इसके अलावा नेटवर्क का ट्विटर अकाउंट भी वेरीफाई हो चूका है, तो ऐसे में पाई नेटवर्क को स्कैम कहना गलत होगा.

Leave a Comment